Uska hi bana lyrics | Arijit Singh |Junaid Wasi

1
36

Uska hi bana lyrics : This song is sung by Arijit Singh. Lyrics is written by Junaid Wasi. And the music director of this song: Chirantan. And the lyrics of this beautiful song are given below.

Uska hi bana lyrics, Uska hi bana lyrics in English, Uska hi bana lyrics in Hindi

Uska hi bana lyrics in Hindi

SongUska Hi Banana
SingerArijit Singh
Movie1920 Evil Returns
Music DirectorChirantan
LyricsJunaid Wasi
Music LabelT-Series

मेरी किस्मत के हर एक पन्ने पे
मेरे जीते जी बाद मरने के
मेरे हर इक कल हर इक लम्हे में

तू लिख दे मेरा उसे
हर कहानी में सारे क़िस्सों में
दिल की दुनिया के सच्चे रिश्तों में

ज़िंदगानी के सारे हिस्सो में
तू लिख दे मेरा उसे
ऐ खुदा ऐ खुदा
जब बना उसका ही बना

ऐ खुदा ऐ खुदा
जब बना उसका ही बना
उसका हूँ उसमें हूँ उसे हूँ

उसी का रहने दे
मैं तो प्यासा हूँ है दरिया
वो ज़रिया वो जीने का मेरे

मुझे घर दे गली दे शहर दे
उसी के नाम के
कदम ये चले या रुके अब उसी के वास्ते

दिल मुझे दे अगर दर्द दे उसका पर
उसकी हो वो हँसी गूँजे जो मेरा घर
ऐ खुदा ऐ खुदा
जब बना उसका ही बना

ऐ खुदा ऐ खुदा
जब बना उसका ही बना
मेरे हिस्से की खुशी को हँसी को

तू चाहे आधा कर
चाहे लेले तू मेरी ज़िंदगी पर
ये मुझसे वादा कर
उसके अश्क़ों पे ग़मों पे दुखों पे

हर उसके ज़ख़्म पर
हक़ मेरा ही रहे हर जगह हर घड़ी हाँ उम्र भर
अब फ़क़त हो यही वो रहे मुझमें ही

वो जुड़ा कहने को बिछड़े ना पर कभी
ऐ खुदा ऐ खुदा
जब बना उसका ही बना

ऐ खुदा ऐ खुदा
जब बना उसका ही बना
मेरी किस्मत के हर एक पन्ने पे

मेरे जीते जी बाद मरने के
मेरे हर इक कल हर इक लम्हे में
तू लिख दे मेरा उसे

ऐ खुदा ऐ खुदा
ऐ खुदा ऐ खुदा

Uska hi bana lyrics in Hindi

Meri qismat ke har ek panne pe
Mere jeete jee, baad marne ke
Mere har ek kal, har ek lamhe mein

Tu likh de mera use
Har kahani mein, saare kisson mein
Dil ki duniya ke, sachche rishton mein

Zindgaani ke saare hisson me
Tu likh de mera use
Aye Khuda, aye Khuda jab bana Uska hi bana

Aye Khuda, aye Khuda jab bana uska hi bana
Uska hoon, usmein hoon
Us-se hoon usi ka rehne de

Main to pyaasa hoon hai dariya wo
Zariya wo jeene ka mere
Mujhe ghar de, gali de, shehar de

Usi ke naam ke
Kadam yeh chalein ya rukein
Ab usi ke vaste

Dil mujhe de agar dard de uska par
Uski ho wo hansi goonje jo mere ghar
Aye Khuda, aye Khuda jab bana uska hi bana

Aye Khuda, aye Khuda jab bana uska hi bana
Mere hisse ki khushi ko, hansi ko
Tu chaahe aadha kar
Chahe lele tu meri zindagi

Par yeh mujhse vaada kar
Uske ashkon pe, ghamon pe, dukhon pe
Har uske zakhm par

Haq mera hi rahe har jagah har ghadi
Haan umra bhar
Ab faqat ho yehi wo rahe mujhmein hi

Wo juda kehne ko bichde na par kabhi
Aye Khuda, aye Khuda jab bana uska hi bana
Aye Khuda, aye Khuda jab bana uska hi bana

Meri qismat ke har ek panne pe
Mere jeete jee, baad marne ke
Mere har ek kal, har ek lamhe mein

Tu likh de mera use
Aye khuda, aye Khuda, aye Khuda
Aye Khuda, aye Khuda

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here